हिजाब के नाम पर ‘तालिबानी’ हत्या: कर्नाटक में फेसबुक पोस्ट करने पर बजरंग दल कार्यकर्ता की हत्या

Spread the love

कर्नाटक : शिवमोग्गा में 23 वर्षीय बजरंग दल के कार्यकर्ता की चाकू मारकर हत्या कर दी गई, पुलिस ने सोमवार, 21 फरवरी को कहा, क्योंकि प्रशासन ने निषेधाज्ञा लागू की और स्कूलों और कॉलेजों में छुट्टी की घोषणा की। पुलिस ने बताया कि भारती कॉलोनी के रवि वर्मा गली में रविवार 20 फरवरी की रात अज्ञात हमलावरों ने हर्षा की चाकू मारकर हत्या कर दी।

रिपोर्टों में कहा गया है कि, पुरुषों का एक गिरोह एक कार में आया और उसे चाकू मार दिया। ये घटना रविवार को रात करीब 9 बजे की है। इलाके में तनाव देखते हुए पुलिस ने वहाँ सुरक्षा बढ़ा दी है। हर्षा की चाकुओं से गोद कर हत्या के बाद उपद्रवियों ने क्षेत्र में कई जगह गाड़ियों में तोड़फोड़ की। उनमें आग लगाई, जिसे बाद में फायर ब्रिगेड द्वारा बुझवाया गया। पुलिस ने स्थिति कंट्रोल करने के लिए इलाके में 144 लगाई हुई है। कॉलेजों में भी सोमवार का अवकाश घोषित है। 

शहर ने हाल ही में हिजाब विवाद को लेकर कुछ कॉलेजों में व्यवधान देखा है।  जबकि, हत्या के कारणों का तत्काल पता नहीं चल पाया है। जहां पुरानी दुश्मनी हत्या के पीछे एक संभावित कारण हो सकती है, वहीं सोशल मीडिया पर सांप्रदायिक पोस्ट भी एक और कारण हो सकता है। 

गृह मंत्री अरागा ज्ञानेंद्र शिवमोग्गा पीड़ित के घर पहुंचे और पीड़ित परिवार से मिले। उन्होंने कहा कि, “एक 23 वर्षीय युवक की मौत हो गई है। ऐसी घटनाएं नहीं होनी चाहिए। पुलिस को सुराग मिल गया है और निश्चित रूप से आरोपी को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। मैं लोगों से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं।” मुझे लगता है कि इसका हिजाब विवाद से कोई संबंध है और जांच के बाद जब अपराधी पकड़े जाएंगे तो सच्चाई सामने आएगी। उन्होंने कहा, “उन्हें गिरफ्तार करना महत्वपूर्ण है और ऐसा ही होगा।” 

पुलिस अधीक्षक बीएम लक्ष्मी प्रसाद ने बताया कि घटना के पीछे के लोगों का पता लगाने के लिए एक टास्क फोर्स का गठन किया गया है। “हमारी प्राथमिकता उन्हें ढूंढना और उन्हें सजा दिलाना है। हम लोगों से अनुरोध करते हैं कि वे हमारे साथ सहयोग करें और भावनात्मक रूप से कार्य न करें।”