रतन टाटाने भारतीय सैनिकों के लिए बनाई ऐसी शानदार गाड़ी की- बम, रॉकेट भी उसका कुछ नहीं बिगाड़ सकते।

Spread the love

रतन टाटा(Ratan Tata) हमारे देश के बहुत ही मशहूर और बड़े बिजनेसमैन(Businessman)है। वह वर्तमान में टाटा समूह के नेतृत्व कर रहे हैं। वह 1991से 2012 तक टाटा समूह के अध्यक्ष भी रह चुके हैं। रतन टाटा के नेतृत्व में टाटा कंपनी नई ऊंचाइयों पर पहुंच गई है। उसने टाटा टी, टाटा केमिकल, इंडियन ऑटो टाटा टेलीसर्विस की चेयरमैनशिप हासिल की थी।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि टाटा ने भारतीय सशस्त्र बलों के लिए बख्तरबंद वाहनों की आपूर्ति का ठेका भी लिया था। इससे पहले डिफेंस में टाटा सफारी स्टोर्म वाहनों की आपूर्ति की थी जिन्हें अब उनके द्वारा बदला जा रहा है।टाटा द्वारा बनाई गई वह कार जिसे सेना में शामिल किया गया है, मर्लिन कहलाती है। आपको जानकर हैरानी होगी लेकिन इस कार को ट्रायल लेने के लिए मुंबई-पुणे हाईवे पर देखा गया।

टाटा की बनाई यह कार किसी मॉन्स्टर कार से कम नहीं है। आप टाटा की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर इस वाहन के बारे में अधिक जानकारी देख सकते हैं।आपको जानकर हैरानी होगी कि इस महान पर ब्लास्ट यार ओके की भी असर नहीं होती है इसका भी प्रोटेक्शन दिया गया है।

ब्लास्ट के समय अंदर बैठा हुआ सैनिक सुरक्षित रहेगा। अब बात करते हैं गाड़ी के एक्सटीरियर की गाड़ी की छत पर 7.6 एमएम की मशीन गन और 40 एमएम का ऑटोमेटिक ग्रेनेड लॉन्चर सिस्टम लगाया है। साथ ही आसपास की मिसाइल से होने वाले हमले को रोकने के लिए इसमें एंटी टैंक मिसाइल लगाई है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि रतन टाटा ने यह गाड़ी सिर्फ और सिर्फ सैनिकों के लिए ही बनवाए है उसने यह गाड़ी का मार्केट में लॉन्चिंग भी नहीं किया है। इस बात से आप अंदाजा लगा सकते हैं कि रतन टाटा कितने देश प्रेमी है।