इस गाँव में देवरों के साथ सोती हैं पत्नियाँ, जानिए इसके पीछे का रहस्य

Spread the love

प्रेम संबंधो के बारे मई कई सारी अफवाए सामने आती ही रहती है| शादीकी जोड़ी भगवान ही बनाकर भेजते है ऐसा कहा जाता है | और कहा जाता हैं कि जोड़ियाँ आसमानों में बनती हैं और धरती पर उनका मिलना होता हैं. शादी सामाजिक दृष्टि से बेहद ही पवित्र बंधन माना जाता है और इसे सात जन्मों का साथ भी माना जाता हैं. लेकिन आज इस लेख में हम एक ऐसे मामलें के बारे में बताने जा रहे हैं गिसे सुनकर आपके होश उड़ जायेंगे|

21वीं सदी में सभी पुरुष और महिलाओं के बीच भेदभाव न करने की बात कहते हैं लेकिन फिर भी कुछ ऐसी जगहें हैं जहाँ महिलाओं के साथ जानवरों जैसा बर्ताव किया जाता हैं.और महिलाओ के पास काम करवाया जाता है और उनका शोषण किया जाता है| आज हम एक ऐसे गाँव की बात करेंगे यहां सिर्फ जमीन का बंटवारा होने से बचाने के लिए एक भाई शादी नहीं करके अपने ही भाभी से जबरदस्‍ती शा‍रीरिक संबंध बनाता है|

केवल 2 गज ज़मीन बचाने लिए एक शख्स को अपनी बीवी अपने भाईयों के साथ शेयर करनी पडती है. यहाँ सभी महिलाओं को अपने परिवार वालों की मर्जी से ही अपने सभी देवरों के साथ जबरदस्ती शारीरक संबंध बनाने पड़ते हैं. वैसे तो हमारे देश में महिलाओं की रक्षा के लिए कई कानून बनाए गए हैं लेकिन इस गाँव में खुले तौर कानूनों को ताक पर रखते हुए महिलाओं के साथ अत्याचार किया जाता हैं|

दरअसल अजीबोगरीब हरकतों के पीछे 2 दिलचस्प वजह भी हैं. औरतों के साथ हो रहे अपराध के पीछे एक वजह महिला और पुरूष के बीच में बढ़ रहा लिंगानुपात और दूसरा लोगों के पास पैसों और जमीन की कमी हैं. जिस गाँव की हम बात कर रहे हैं वो गाँव राजस्थान अलवर का मनखेरा गांव की है. यहाँ सभी सालों से इस अजीबोगरीब कुरीति को निभाते तो आ रहे हैं लेकिन कोई भी इस पर खुलकर बात नहीं करना चाहता हैं. जबकि गाँव के लोगों ने महिलओं को इतना हक़ नहीं दिया है कि वे इस मुद्दे पर अपना विरोध दर्ज करा सके.

इस गांव मे यदि कोई भी महिला गलती से भी गैर मर्द के साथ शारीरिक संबंध बनाने से मना कर देती है तो सभी उसके साथ बेहद खराब बर्ताव करते है. एक बार सरकार ने इस गाँव में एक अध्ययन कराया था. जिसमे ये बात निकलकर सामने आई थी कि कम जमीन कारण यहां के ज्यादातर पुरुषों की शादी नहीं हुई हैं.लेकिन इस बात को कई लोग सच मन रहे है ओर कई लोग कह रहे है की यह जूठ है| ऐसे कई साडी अफवाए सामने आरही है|