गुजरात के छात्रों के लिए महत्वपूर्ण खबर, शिक्षा मंत्री ने कक्षा 11 में प्रवेश और स्कूल की फीस को लेकर दिया अहम् बयान

Spread the love

गुजरात में कोरोना की दूसरी लहर धीमी पड़ रही है और शिक्षा विभाग स्कूल-कॉलेजों को फिर से शुरू करने पर चर्चा कर रहा है. मिली जानकारी के अनुसार जल्द ही स्कूल-कॉलेज खोलने को लेकर अहम फैसला लिया जा सकता है. किसी भी छात्र को प्रवेश से वंचित नहीं किया जाएगा।कोरोना महामारी में कक्षा 10 के छात्रों को मास प्रमोशन दिया गया है और उनका रिजल्ट भी घोषित कर दिया गया है. फिर वे छात्रों के माता-पिता को इस डर से परेशान कर रहे हैं कि कुछ छात्र अगली कक्षा में प्रवेश से वंचित हो जाएंगे।

छात्रों को मास प्रमोशन देने वाले स्कूल जल्द शुरू हो सकते हैं। अभिभावकों की चिंताओं को लेकर शिक्षा मंत्री भूपेंद्रसिंह चुडासमा ने कहा कि प्रदेश में एक भी छात्र प्रवेश से वंचित नहीं रहेगा.आपको छात्रों की चिंता करने की जरूरत नहीं है.वहीं अभिभावक स्कूलों में 50 फीसदी फीस माफ करने की मांग कर रहे हैं. ऐसे में अगर स्कूल इस फ्री में कम करेगा तो प्रशासकों को कोर्ट जाना होगा. इस मुद्दे पर शिक्षा मंत्री भूपेंद्रसिंह चुडासमा ने कहा कि शिक्षा बोर्ड जल्द ही इस पर फैसला लेगा।

अभिभावक स्कूल न शुरू करने पर फीस में 50 फीसदी की कटौती की मांग कर रहे हैं. वहीं स्कूल संचालक इससे इंकार कर रहे हैं। सरकार ने फीस में 25 फीसदी की कटौती की मांग की है लेकिन प्रस्ताव पारित नहीं किया है.