एक ऐसा अनोखा घर जहां बेडरूम में सोते है गाय और उसका बछड़ा- जानिए इसके पीछे का रहस्य

Spread the love

आपने कई घरों में देखा होगा कि लोग कुत्तों और बिल्लियों को घर में रखना पसंद करते हैं और प्यार से उनकी देखभाल करते हैं। लेकिन राजस्थान के जोधपुर में एक परिवार ऐसा भी है जो अपने घर में गाय, बैल और बछड़ों के साथ रहता है। इतना ही नहीं, बल्कि उन्हें परिवार के सदस्यों के रूप में माना जाता है और उनकी अच्छी तरह से देखभाल की जाती है।

बता दें, जोधपुर के हाउसिंग बोर्ड थाना क्षेत्र के सुभाष नगर में रहने वाले प्रेम सिंह कछवाह का पूरा परिवार इन दिनों चर्चा में है. दरअसल प्रेमसिंह कछवाह और उनकी पत्नी संजू कंवर परिवार के सदस्यों की तरह ही अपने घर में गाय और बैल रखते हैं। इतना ही नहीं उन्होंने अपने घर में गायों, बछड़ों और बैलों के नाम भी रखे हैं। संजू कंवर ने बताया कि उनके घर में गाय का नाम ‘गोपी’ है, जबकि बछड़े का नाम ‘गंगा’ और बछड़े का नाम ‘पृथु’ है। संजू कंवर का कहना है कि वह अक्सर इस बछड़े के साथ खेलता है और प्यार से उसे नहलाता है और अपने बेडरूम में सोता है।

प्रेम सिंह का कहना है कि उनके घर में रहने वाली गाय-बैल हमेशा बिस्तर पर बहुत आराम से रहती हैं। लेकिन गोबर के समय वह बिस्तर से उठकर अपने नियत स्थान पर चला जाता है। उसने कभी घर को गंदा नहीं किया। पत्नी संजू कौर का कहना है कि गायों में 33 करोड़ देवी-देवताओं का वास है।

संजू की अपील है कि गाय को घर में रखने से घर की नकारात्मक ऊर्जा खत्म हो जाती है और घर में सुख-शांति बनी रहती है। इसके अलावा संजू सरकार से कहते हैं कि गायों को राष्ट्रीय पशु घोषित किया जाना चाहिए और जो लोग बेल की खेती में काम नहीं कर सकते उनके लिए एक अलग कानून बनाया जाना चाहिए ताकि कोई उन्हें अपने घरों से बेदखल न कर सके।

दिलचस्प बात यह है कि संजू के घर को ‘काउ हाउस’ के नाम से जाना जाता है। बताया जाता है कि पहले दिन संजू के घर पहुंची नगर निगम की टीम ने उनकी सभी गायों को जब्त कर लिया. ऐसे में संजू और उसके पति ने फिर से फैसला किया कि वे अब गाय, बैल और बछड़े को अपने घर के अंदर ही रखेंगे।