IPL के बीच क्रिकेट जगत के लिए दुखद खबर: पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज का दिल का दौरा पड़ने से निधन

Spread the love

भारत में IPL 2022 का रोमांच अपने चरम पर है। फिर आई आज की दुखद खबर। मुंबई के पूर्व तेज गेंदबाज और रणजी ट्रॉफी विजेता टीम का हिस्सा रहे राजेश वर्मा का रविवार को निधन हो गया। राजेश वर्मा उस टीम के सदस्य थे जिसने 2006-07 में रणजी ट्रॉफी का खिताब हासिल किया था। राजेश वर्मा (Rajesh Verma)का रविवार को दिल का दौरा पड़ने से निधन हुआ था। उन्होंने 40 साल की उम्र में अंतिम सांस ली। राजेश ने अपने करियर में सात प्रथम श्रेणी मैच खेले और इन सभी में दर्शको का दिल जीता है।

40 साल की उम्र में ली आखिरी सांस लेली
उनके पूर्व मुंबई सहयोगी भाविन ठाकरे ने उनके निधन की घोषणा की है। उन्होंने अपने करियर में केवल सात प्रथम श्रेणी मैच खेले। दाएं हाथ के मध्यम तेज गेंदबाज राजेश वर्मा ने 2002-03 में पहली श्रृंखला में प्रवेश किया। उन्होंने 11 लिस्ट ए मैचों में 20 विकेट और सात प्रथम श्रेणी मैचों में 23 विकेट लिए। वह 2006-07 में रणजी ट्रॉफी जीतने वाली मुंबई टीम का एक महत्वपूर्ण हिस्सा थे।

भाविन ठाकरे ने एक अंग्रेजी अखबार से कहा, “मैं पूरी तरह से स्तब्ध हूं। हमने अंडर-19 के दिनों से अपना क्रिकेट दौरा एक साथ बिताया है। हम वडाला से मैदान तक साथ-साथ चले। 20 दिन पहले वह मेरे साथ बीपीसीएल के दौरे पर थे। कल शाम उनसे 30 मिनट बात की और आज सुबह 4 बजे मेरे पास फोन आया कि वह चले गए हैं।

ठाकरे ने कहा, “वह एक अद्भुत व्यक्ति थे और मेरे बहुत करीबी दोस्त थे। वह बेहद प्रतिभाशाली तेज गेंदबाज थे। आज के दौर में वह आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन कर रहे होते। उन्हें इससे ज्यादा हासिल करना चाहिए।

एमसीए ने दी श्रद्धांजलि
राजेश वर्मा के निधन के बाद क्रिकेट जगत में शोक की लहर दौड़ गई है। मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने भी अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल के जरिए उन्हें श्रद्धांजलि दी और उनके निधन की घोषणा की थी।

राजेश ने लिए 48 विकेट
राजेश वर्मा ने सात प्रथम श्रेणी मैच खेले। वह 2006-07 में मुंबई की रणजी ट्रॉफी विजेता टीम के सदस्य भी थे। वर्मा ने 2002/03 सीज़न में प्रथम श्रेणी में पदार्पण किया और 2008 में ब्रेबोर्न स्टेडियम में पंजाब के खिलाफ अपना अंतिम प्रथम श्रेणी मैच खेला।