रशियन युवतीको भारत के गांवके लडके से प्यार हो गया! सबकुछ छोड़ के चली आई भारत

Spread the love

वह कहते हैं ना जब प्यार होता है तो वो धर्म, जात, पात, उमर कुछ नहीं देखता चाहे कितना दूरियां, कितना करीब, कुछ भी क्यों ना हो. प्यार प्यार होता है. दुनियामें बहुत से ऐसे लोग हो गए हैं जिन्होंने प्यार की खातिर अपनी जान भी दे दी. तो बहुत सारे लोगोंने प्यारके लिए बहुत कुछ खोया है. ऐसी ही एक घटना भारत के मध्य प्रदेश में हुई है, इसको सुनने के बाद आप आपका भी प्यार के प्रति विश्वास दृढ़ हो जाएगा.

रशिया की एक लड़की मध्यप्रदेशके इंदौरकी बहू बनी है. आपको बता दें रशियाकी लीना बेरकोलसेव और इंदौर के युवक ऋषि वर्मा जो कि एक शेफ है. दोनों जब रशिया के सेंट पिट्सबर्गमें पहली बार मिले थे, और बाद में उन दोनों के बीच में दोस्ती हो गई थी जो प्यार में बदल गई.

सूत्रों से मिली हुई जानकारी के मुताबिक ऋषि वर्माने लीना को वीडियो कॉल में ही प्रपोज कर लिया था. और अब दोनों आने वाले दिसंबरमें हिंदू रीति रिवाज के मुताबिक शादी करेंगे और अपना घर संसार शुरू करेंगे. आपको बता दें यह युगल ने पहले से ही कोर्ट मैरिज कर लिए हैं, और इस साल के खत्म होते होते दोनों शादी कर लेंगे.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इंदौर के सप्तश्रुंगी के रहने वाले ऋषि वर्मा हैदराबाद में एक जानी मानी रेस्टोरेंटमें शेफका काम करते है. और बोहत ही स्वादिष्ट खाना भी बना लेते है. वह यूरोप टूर पर गए तब 2019 में रशिया के सेंट पीट्सबर्ग गए थे, और वहां वह लीना को मिले थे. एक फोटो खिंचवाने के लिए ऋषिने लीनाको बोला और इसी बहाने दोनों के बीच में दोस्ती हो गई, और दोस्ती इतनी गहरी हो गई कि वह कब प्यार में बदल गई दोनों को पता नहीं चला.

ऋषि और लीना बाद में फोन पर बातें करने लगे थे, और उनके बीच में करीबी कटने लगी थी दोनों एक दूसरे के नजदीक आने लगे थे. बाद में कोरोना काल में लंबे समय तक दोनों मिल नहीं पाए, बाद में रूसी ने लीना को प्रपोज किया और लीना ने हां कर दिया.

2021 दिसंबर में लीनाको भारतीय वीजा मिल गया बादमें लेना इंदौर आ गई और जब से वह भारतमें आई है, तब से वह वापस कभी नहीं गई है. और उसने उसी के साथ रहकर उसके साथ शादी करने का फैसला ले लिया है, अब दोनों हिंदू रीति रिवाज मुताबिक अगले दिसंबर में शादी करने वाले हैं.

आपको बता दें लीना को भारतीय खाना बहुत पसंद ,है उसको भारतीय संस्कृति भी बहुत अच्छी लगती है, रूसी भी तरह-तरह के भारतीय खाने बनाकर लीना को खिला रहा है. लीना मंदिर भी जाती है और इन दिनों में ली ना अभी हिंदी लिखना और बोलना पड़ रही है,