Latest

अब Rishabh Pant को टीम से बाहर करने का प्लान, जानिए किस सीरीज से हो सकते हैं बाहर

Spread the love

भारतीय क्रिकेट टीम अब आने वाले दिनों में श्रीलंका के खिलाफ वनडे और टी20 सीरीज खेलने वाली है, इस सीरीज में रोहित शर्मा कुछ बड़े बदलाव कर सकते हैं. खबर है कि टीम के स्टार विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत इस साल टी20 फॉर्मेट में नहीं खेले हैं, खराब प्रदर्शन के चलते वह अगली सीरीज से भी बाहर हो सकते हैं. खराब प्रदर्शन के चलते ऋषभ पंत को टी20 फॉर्मेट से बाहर का रास्ता दिखाया जा सकता है। अगर ऐसा होता है तो उनकी जगह इशान किशन या संजू सैमसन को टीम में जगह मिल सकती है।

ऋषभ पंत ने बांग्लादेश के खिलाफ हाल ही में समाप्त हुई टेस्ट सीरीज में शानदार बल्लेबाजी की, लेकिन अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में टी20 प्रारूप में अभी तक ऐसा नहीं कर पाए हैं। विश्व कप में फ्लॉप साबित होने के बाद बीसीसीआई ने ऋषभ पंत को टी20 से हटाने का प्लान लगभग बना लिया है. जहां तक ​​ऋषभ पंत की बात है तो उन्होंने अब तक 66 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 22 की औसत से 987 रन बनाए हैं, जबकि पंत का स्ट्राइक रेट कुछ खास नहीं रहा है. ऋषभ पंत ने सिर्फ 126 की स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं। इतना ही नहीं, ऋषभ पंत ने टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में सिर्फ 3 अर्धशतक लगाए हैं।

भारत-श्रीलंका टी20/वनडे शेड्यूल
श्रीलंका भारत दौरे की शुरुआत टी20 सीरीज से करेगा। टी20 सीरीज का पहला मैच 3 जनवरी को मुंबई में, दूसरा मैच 5 जनवरी को पुणे में और तीसरा और आखिरी मैच 7 जनवरी को राजकोट में खेला जाएगा। इस सीरीज के बाद दोनों देशों की वनडे सीरीज का आयोजन किया जाएगा. वनडे सीरीज का पहला मैच 10 जनवरी को गुवाहाटी में, दूसरा मैच 12 जनवरी को कोलकाता में जबकि तीसरा और आखिरी वनडे 15 जनवरी को तिरुवनंतपुरम में खेला जाएगा।

भारत श्रीलंका आमने-सामने
टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में भारतीय टीम श्रीलंका पर भारी है. दोनों देशों के बीच अब तक 26 मैच खेले जा चुके हैं। जिसमें भारत ने 17 और श्रीलंका ने 8 मैच जीते हैं। इस बीच मैच का नतीजा नहीं आया। वनडे में भी श्रीलंका पर भारत का दबदबा है। दोनों देशों के बीच अब तक 162 वनडे खेले गए हैं, जिसमें टीम इंडिया ने 93 और श्रीलंका ने 57 मैच जीते हैं। इस बीच, एक मैच टाई रहा जबकि 11 मैचों का नतीजा नहीं निकला।

58 करोड़ के आलीशान घर में लग्जरी लाइफ जीते हैं शाहिद कपूर और मीरा अडाणी जैसे 16 अरबोपतिओ को रुला चूका है हिंडनबर्ग रिसर्च