नहीं रहे संगीत के ‘गोल्ड मेन’ बप्पी लहेरी – 70 साल की उम्र में दुनिया को कहा अलविदा

Spread the love

बप्पी लहेरी(Bappi Laheri): 80 और 90 दशक में डिस्को संगीत को लोकप्रिय बनाने वाले म्यूजिक कंपोसर और सिंगर “बप्पी लहरी का आज मुंबई के क्रिटिकेयर अस्पताल में 69 साल की उम्र में निधन हो गया। म्यूजिक जगत की स्वर कोकिला लता मंगेशकर के बाद आज बप्पी लहरी की मुत्यु ने बॉलीवुड और म्यूजिक इंड्डस्ट्री में शोक की लगर है।  

बप्पी लहरी महीने से अस्पताल में भर्ती थे और सोमवार को उन्हे छुट्टी दे दी गई थी। लेकिन मंगलवार रात को उनकी तबीयत ज्यादा बिगड़ ने की वजह से उनको जुहू के क्रिटिकेयर अस्पताल ले जाया गया उन्हे स्वास्थ्य संबंधी कई तकलीफ़े थी। ओब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया ( OSA ) के कारण रात को ही उनकी मृत्यु हो गई। म्यूजिक जगत की स्वर कोकिला लता मंगेशकर के बाद आज बप्पी लहरी की मुत्यु ने बॉलीवुड और म्यूजिक इंड्डस्ट्री में शोक की लगर है।  

बप्पी लहरी ने 1970-80 के दशक के अंत में ‘चलते चलते’, ‘डिस्को डांसर’ और ‘शराबी’ जैसी कई फिल्मों में लोकप्रिय गाने दिये है। उनका आखरी बॉलीवुड गाना बंकस 2020 की फिल्म ‘बागी 3’ के लिए था। बप्पी लहरी ने 19 साल की उम्र में अपना करियर शरू किया था और 1970-80 के दसक में म्यूजिक इंड्डस्ट्री में अपना नाम बनाया था।

प्रधानमंत्री नरेंद मोदी ने बप्पी दा को श्रद्धांजलि देते हुए ट्वीट किया की  “श्री बप्पी लहरी जी का संगीत सर्वागीण था। विभिन्न भावनाओ को जाहीर करने वाला था। कई पीढ़ियो के लोग उनके संगीत से खुद को जुड़ा महसूस कर सकते है। उनका  खुशमिजाज़ स्वभाव सभी को याद रहेगा। उनके निधन से दुखी हु। उनके परिवार और प्रशंसको के प्रति संवेदना। ॐ शांति ”