आज मुकेश अंबानी का 65वां जन्मदिन – अरोबो के प्रॉपर्टी के मालिक को आज भी है इस बात का डर

Spread the love

पेट्रोलियम रिफाइनरियों से लेकर टेलीकॉम और रिटेल सेक्टर में काम करने वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक मुकेश अंबानी का आज 65वां जन्मदिन है। बिजनेस की दुनिया में मुकेश अंबानी ने निडर होकर कई फैसले लिए हैं, लेकिन निजी जिंदगी में उन्हें एक बात का डर है।

18 साल की उम्र में काम किया, पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी
मुकेश अंबानी का जन्म 19 अप्रैल 1957 को हुआ था। वह अपने पिता धीरूभाई अंबानी की सबसे बड़ी संतान हैं। जब वह 18 साल के थे, तब उनके पिता ने देश में पॉलिएस्टर यार्न का प्लांट शुरू किया था। मुकेश अंबानी उस समय पढ़ाई कर रहे थे, लेकिन वह अपने पिता की मदद के लिए आगे आए और उनके साथ काम करने लगे। प्लांट लगाने के बाद जब उनके पिता ने उन्हें पढ़ाई पर लौटने के लिए कहा तो अंबानी ने उनके साथ बिजनेस करने पर ध्यान दिया।

मुकेश अंबानी किससे डरते हैं?
मुकेश अंबानी को अपने स्कूल के दिनों में हॉकी खेलना बहुत पसंद था। लेकिन वह स्वभाव से बहुत शर्मीले इंसान हैं। इसलिए दुनिया के सबसे अमीर लोगों में से एक होने के बावजूद आपने उन्हें बहुत ही सरल और सरल तरीके से बात करते देखा होगा।

एक इंटरव्यू में मुकेश अंबानी ने खुद कहा था कि वह बहुत शर्मीले हैं और सार्वजनिक रूप से बोलने से बहुत डरते हैं। उसने कभी शराब को छुआ तक नहीं है। लंबे समय तक अपने पिता के साथ काम करने के कारण उनका काफी प्रभाव है। इसलिए मुकेश अंबानी अक्सर अपने भाषणों में अपनी बातों का उदाहरण देते नजर आते हैं। अपने शर्मीले स्वभाव के कारण मुकेश अंबानी मीडिया में ज्यादा इंटरव्यू आदि देते नहीं दिखते। साथ ही वह सोशल मीडिया पर ज्यादा एक्टिव नहीं हैं। उनके ज्यादातर भाषण बड़े निवेशक सम्मेलनों या उनकी कंपनी की एजीएम में सुने जाते हैं।

रिलायंस की स्थापना मुकेश अंबानी के पिता धीरूभाई अंबानी ने की थी। केमिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी करने के बाद मुकेश अंबानी ने 1981 में अपने पिता धीरूभाई अंबानी के साथ पेट्रोलियम और केमिकल का कारोबार शुरू किया। 1985 में कंपनी का नाम रिलायंस टेक्सटाइल इंडस्ट्रीज लिमिटेड से बदलकर रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड कर दिया गया। 2002 में धीरूभाई की मृत्यु हो गई और उनकी मृत्यु के बाद मुकेश अंबानी ने रिलायंस इंडस्ट्रीज की बागडोर संभाली।