मेहुती का वीर जवान शहीद, गुरुग्राम में सैनिक सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कार जानिए

Spread the love

मध्य प्रदेश: देश की जनता की रक्षा के लिए सेना के जवान अपने प्राणों की आहुति दे रहे हैं. उस समय खबर मिली थी कि हलमा में एक युवक शहीद हो गया है. मध्य प्रदेश के सतना जिले के वीर सपूत ने कश्मीर में बर्फबारी के दौरान अपने प्राणों की आहुति दे दी है. मध्य प्रदेश के कश्मीर में बर्फबारी के दौरान सेना के एक जवान की मौत से पूरा सूबा शोक में है। कश्मीर में शहीद हुए सतना जिले के एक जवान का शव गुरुवार सुबह गुरुग्राम पहुंचा है.

उदास माहौल में सांसद गणेश सिंह, मंत्री रामखेलवां पटेल ने जवान के घर जाकर श्रद्धांजलि दी. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी जवान के निधन पर दुख जताया है. शहीद जवान का अंतिम संस्कार गुरुवार को सैन्य सम्मान के साथ किया जाएगा।

सतना के मेहुती निवासी 35 वर्षीय सुखराम सिंह काजू कश्मीर में तैनात थे। वह सेना की 23वीं राजपूत बटालियन में कांस्टेबल थे। कश्मीर में बर्फबारी के दौरान उनका एक्सीडेंट हो गया था. बुधवार को लखनऊ के आर्मी अस्पताल में उनका निधन हो गया। उनके पिता का नाम जनार्दन सिंह है।

बहादुर सैनिक सुखराम की शहादत की खबर बुधवार की दोपहर मेहुती पहुंची तो गांव और घर में कोहराम मच गया। पत्नी आशा सिंह बेसुध हो गईं, माता-पिता का भी रो-रो कर बुरा हाल है। बताया जाता है कि सेना की टुकड़ी विशेष वाहन से पार्थिव देह को लेकर रवाना हो चुकी है, जिसके देर रात तक पहुंचने की संभावना है। उधर प्रशासन ने गांव में सैनिक की अंतिम विदाई के प्रबंध शुरू कर दिए हैं।