जानिए इस रहस्यमयी कुंड के बारे में- जहां ताली बजाने से निकलता हे पानी

Spread the love

तथ्य और रहस्य के बीच kके अंतर को दूर करनेकी प्रक्रिया बहुत पुरानी है। लेकिन ऊपरवाले की कृपा देखे, प्रत्येक प्रश्न के लिए एक उत्तर की आवश्यकता होती है. उसमें एक मनुष्य एक रहस्य को सुलझाता है, फिर दूसरा उसके सामने प्रकट होता है या वह उसके समानांतर चलता है। मनुष्य जिज्ञासु प्रवृति का व्यक्ति है।

भारत में कई ऐसी जगहें हैं जो रहस्यों से भरी हुई हैं। ऐसी जगहों के बारे में हमने अक्सर देखा या सुना है। जबकि कई रहस्य देश-विदेश के वैज्ञानिक भी नहीं सुलझा पाए। ऐसी ही एक रहस्यमयी जगह है दहाली कुंड। एक तालाब जहाँ ताली बजाने पर पानी निकलता है।

आइए जानते हैं झारखंड के बोकारो में पानी के इस कुंड के पीछे क्या राज है। बता दें कि झारखंड के बोकारो का दहाली कुंड अपने रहस्यमय चमत्कारों के लिए हमेशा चर्चा में रहता है. कहा जाता है कि इस टंकी के सामने खड़े होकर ताली बजाने से पानी निकलता है, यह कहने की बात नहीं है कि इस टंकी में पानी बहुत गर्म होता है।

मानो अभी-अभी उबाला गया हो। बता दें कि दहाली कुंड का पानी जमुई नामक नाले से बहकर गरजा नदी में जाता है। एक खोज के मुताबिक ऐसी जगह पर पानी बहुत कम होता है। तब ताली की लहरें पानी को प्रभावित करती हैं और ऊपर की ओर उठती हैं। वहीं कुछ लोगों का कहना है कि इस टंकी से मौसम के हिसाब से पानी निकलता है।

अगर यह गरमी है, तो पानी ठंडा हो जाएगा। ठंडा होने पर पानी गर्म हो जाएगा। प्रचलित मान्यता के अनुसार इस कुंड में स्नान करने से मनोकामनाएं पूरी होती हैं। इस अनोखे कुंड में नहाने के लिए दूर-दूर से लोग आते हैं। आसपास के इलाके में रहने वाले लोगों का कहना है कि ‘त्वचा रोग’ से जुड़े तमाम रोग को इस कुंडका पानी दूर करता हैं।