जम्मू कश्मीर के कुलगाम मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने 2 आतंकियों का किया एनकाउंटर

Spread the love

सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ होती ही रहती है। फिर एक बार जम्मू कश्मीर में सर्च ऑपरेशन के दौरान कुल गांव में मुठभेड़ हुई और आतंकियों को मार गिराया। मुठभेड़ में मारे गए दोनों आतंकवादियों का संबंध सीधा पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद से था।

ऐसी जानकारी मिली है यह जानकारी कश्मीर के आईजीपी ने दी है। सूत्रों अनुसार जानकारी मिली है कि पीएम मोदी का जम्मू कश्मीर दौरा निर्धारित हुआ है तभी से आतंकी संगठन लगातार घाटियों को जालडालने की साजिश कर रहे हैं। खुफिया एजेंसी और सुरक्षाबलों की चौकसी के आतंकियों के मंसूबों का नाश कर रहे हैं।

सुरक्षाबलों को दक्षिण कश्मीर के कुल गांव के बिरहा मां में आतंकवादी छुपे हैं ऐसी जानकारी मिली थी। फिर पुलिस और सुरक्षा बलों ने मिलकर एक टीम बनाई और कुल गांव की ओर सर्च ऑपरेशन के लिए निकल पड़ी। इसके बाद इलाके की घेराबंदी करते हुए पुलिस नजर आई। फिर आतंकवादियों ने गोली मारने की शुरुआत की।

आईजीपी ने जानकारी दी कि आतंकियों के पास भारी मात्रा में विस्फोटक भी मिले हैं इसके अलावा इनके पास से एके-47 राइफल 7 मैगजींस ,9 ग्रेनेड भी मिले हैं और फिलहाल भी सर्च ऑपरेशन जारी है। आपकी जानकारी के लिए बता देते हैं कि शुक्रवार को जम्मू कश्मीर के बारामुला जिले में सुरक्षा बलों के साथ लगभग 36 घंटे तक चली मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के तीन आतंकवादी मारे गए थे।

इनमें इस आंतकवादी संगठन का शीर्ष कमांडर युसूफ करोगी शामिल था इससे पहले की बात करें तो पुलिस ने बारामूला में मुठभेड़ में चार आतंकवादियों के मारे जाने का दावा किया था लेकिन अभी जो 2 आतंकवादी मारे गए हैं उसका शव बरामद नहीं हुआ है।