Latest

अब नहीं देखने को मिलेगा India vs Pakistan का मैच? सामने आया विदेश मंत्री का बड़ा बयान

Spread the love

भारत और पाकिस्तान (India vs Pakistan) के बीच क्रिकेट मैच को लेकर पहली बार विदेश मंत्री एस. जयशंकर का चौंकाने वाला बयान सामने आया है। विदेश मंत्री ने कहा कि सीमा पार आतंकवाद को कभी हल्के में नहीं लेना चाहिए। भारतीय खिलाड़ियों के Pakistan नहीं जाने की घोषणा के बाद एशिया कप 2023 को लेकर BCCI और PCB के बीच विवाद के बीच जयशंकर ने कहा, ‘टूर्नामेंट आता रहता है और आप सरकार का रुख जानते हैं। देखते हैं आगे क्या होता है।’

“मैं फिर से कहना चाहता हूं कि हमें यह कभी स्वीकार नहीं करना चाहिए कि किसी भी देश को आतंक का अधिकार है। हमें इसे अवैध बनाना होगा और इसके लिए उस देश पर अंतरराष्ट्रीय दबाव बनाना होगा। यह दबाव तब होगा जब आतंकवाद के शिकार लोग बोलेंगे। जयशंकर ने एक समाचार चैनल के कार्यक्रम में कहा, हमें इसमें नेतृत्व दिखाना होगा क्योंकि हमने आतंकवाद के कारण बहुत खून बहाया है।

भारत और पाकिस्तान के बीच बातचीत बहाल करने के मुद्दे पर जयशंकर ने कहा, ‘यह एक जटिल मुद्दा है। अगर मैं आपके सिर पर बंदूक रख दूं तो क्या आप मुझसे बात करेंगे? कौन हैं नेता, कहां हैं खेमे… हमें यह कभी नहीं सोचना चाहिए कि सीमा पार आतंकवाद सामान्य है। मैं एक और उदाहरण देता हूं जहां एक पड़ोसी दूसरे के खिलाफ आतंकवाद को प्रायोजित कर रहा है। ऐसा कोई उदाहरण नहीं है। एक तरह से यह असामान्य नहीं बल्कि असाधारण भी है।

एशिया कप को लेकर विवाद
जय शाह एशियाई क्रिकेट परिषद के अध्यक्ष हैं और भारतीय क्रिकेट बोर्ड के सबसे प्रभावशाली व्यक्ति माने जाते हैं। यह उनके पिता अमित शाह की वजह से है, जो भारत की वर्तमान सरकार में एक बहुत ही महत्वपूर्ण मंत्रालय रखते हैं। अगले एशिया कप की मेजबानी पाकिस्तान करेगा, तो एशियाई क्रिकेट परिषद या जय शाह ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड से बात किए बिना एशिया कप को तटस्थ स्थान पर आयोजित करने की बात कैसे कह दी?

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने जय शाह के बयान पर गहरा खेद व्यक्त किया है और कहा है कि इससे पाकिस्तान टीम का 2023 और 2031 में भारत में विश्व कप खेलने का भारत दौरा भी प्रभावित हो सकता है।

58 करोड़ के आलीशान घर में लग्जरी लाइफ जीते हैं शाहिद कपूर और मीरा अडाणी जैसे 16 अरबोपतिओ को रुला चूका है हिंडनबर्ग रिसर्च