Latest

टीम में जगह न मिलने पर इमोशनल हुए Prithvi Shaw- स्टोरी डाल कर कहा, “किसी ने मुफ्त में पा लिया…”

Spread the love

श्रीलंका और भारत के बीच तीन जनवरी से टी20 सीरीज शुरू होने जा रही है. फिर 3 वनडे मैचों की सीरीज खेली जाएगी। इन दोनों सीरीज के लिए भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने टीम इंडिया का ऐलान कर दिया है। टीम इंडिया में चयन समिति ने श्रीलंका सीरीज के लिए टीम में कुछ नए चेहरों को शामिल किया है। लेकिन इस बीच क्रिकेट बोर्ड को पृथ्वी शो की याद नहीं आई है. इस स्थिति के बीच अब पृथ्वी के सोशल मीडिया पर उनकी कहानी वायरल हो गई है।

पृथ्वी शॉ को टीम इंडिया में शामिल नहीं किए जाने का दुख है। टीम इंडिया के ऐलान के बाद पृथ्वी ने अपने इंस्टाग्राम पर एक स्टोरी शेयर की है। कहानी को अब अलग मायने मिल रहे हैं। कहानी वायरल होने लगी है।

 शायरी लिख कर डाली स्टोरी
भारतीय क्रिकेट बोर्ड द्वारा मंगलवार को 2023 की पहली दो श्रृंखलाओं के लिए टीम की घोषणा करने के बाद, पृथ्वी शॉ ने एक इंस्टाग्राम स्टोरी पर रील अपलोड की। पृथ्वी शो ने प्रसिद्ध शायर उज़ैर हिज़ाज़ी द्वारा एक शायरी रील साझा की। जिनके शब्द थे, ‘किसी मुफ्त में पा लिया वो शख्शो, जो मुझे हर कीमत पर चाहिए था’

युवा खिलाड़ी की कहानी ने बहस छेड़ दी है। क्योंकि इस चर्चा से यह भी पता चला है कि, कुछ यूजर्स के मुताबिक, पृथ्वी शो ने नए चुने गए खिलाड़ियों को निशाना बनाया है। इस अर्थ को लेकर बहस तेज हो गई है। हालांकि बाद में पृथ्वी ने इस स्टोरी को इंस्टाग्राम से हटा लिया था। वहीं, प्रोफाइल पिक्चर भी हटा दी गई।

घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन
घरेलू क्रिकेट में मुंबई के लिए खेलने वाले पृथ्वी शॉ ने हाल ही में अच्छा प्रदर्शन किया है। इसके अलावा उन्होंने इंडियन प्रीमियर लीग के पिछले सीजन में भी अच्छा प्रदर्शन किया था। आईपीएल में 10 मैचों में 283 रन बनाए। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 152.97 का रहा। पृथ्वी लंबे समय से भारतीय टीम में वापसी का इंतजार कर रहे हैं। उन्होंने आखिरी बार पिछले साल श्रीलंका के खिलाफ खेला था।

हार्दिक पांड्या जनवरी में खेली जाने वाली टी20 सीरीज में कप्तानी करेंगे। वनडे सीरीज में कप्तानी की कमान रोहित शर्मा संभालेंगे। ऐसे में हार्दिक पांड्या के नेतृत्व में युवा खिलाड़ियों से सजी टीम मैदान में उतरेगी.

58 करोड़ के आलीशान घर में लग्जरी लाइफ जीते हैं शाहिद कपूर और मीरा अडाणी जैसे 16 अरबोपतिओ को रुला चूका है हिंडनबर्ग रिसर्च