Latest

शताब्दी महोत्सव में अमेरिका, अफ्रीका समेत भारत के 46 युवाओं ने महंतस्वामी के सानिध्य में ली पार्षदी दीक्षा- देखें तस्वीरें

Spread the love

प्रमुख स्वामी महाराज शताब्दी महोत्सव: प्रमुख स्वामी महाराज का भव्य शताब्दी महोत्सव अहमदाबाद में मनाया जा रहा है. इस शताब्दी महोत्सव में प्रमुख स्वामी महाराज के सेवकों से लेकर अनेक हरिभक्त भी सेवा कर रहे हैं। प्रतिदिन बड़ी संख्या में दर्शनार्थियों का तांता लगा रहता है। इस प्रमुख स्वामी नगर को देखकर हर कोई अभिभूत है।

प्रमुख स्वामी महाराज नगर में दीक्षा दिवस के अवसर पर 46 युवाओं ने दीक्षा ग्रहण की है. दीक्षा दिवस के अवसर पर देश-विदेश के 46 युवाओं ने दीक्षा ली। संयुक्त राज्य अमेरिका, अफ्रीका और भारत सहित अन्य देशों के युवाओं ने दीक्षा ली है। इन 46 युवकों ने साधक से परशादी दीक्षा ली।

खास बात यह रही कि दीक्षा लेने वाले युवकों के परिजन भी दीक्षा समारोह में मौजूद रहे। दीक्षा से पूर्व कोठारी स्वामी व सारंगपुर के संतों ने महापूजा की। दीक्षा लेने के बाद दीक्षा लेने वाले युवकों ने महंत स्वामी का आशीर्वाद लिया।

प्रमुख स्वामी महाराज शताब्दी महोत्सव में साधक से 46 युवाओं ने ग्रहण की प्रसाद दीक्षा :
हार्दिकभाई साधक, अहमदाबाद – प्रमुख स्वामी महाराज शताब्दी महोत्सव में पारशादी दीक्षा प्राप्त करने वाले युवाओं में निश्चल भगत; विजयराजभाई साधक, अहमदाबाद – उत्कर्ष भगत; भावेशभाई साधक, अहमदाबाद – पथिक भगत; साहिलभाई साधक, अमेरिका – पुनीत भगत; शैलभाई साधक, अमेरिका – व्योमेश भगत; अक्षरभाई साधक, बोचासन – सुदृध भगत; अर्चनाभाई साधक, वडोदरा – आदर्श भगत।

तुषालभाई साधक, राजकोट, मेलबर्न – परिमल भगत; चिरागभाई साधक, अमेरिका – प्रतोष भगत; निकुलभाई साधक, अमेरिका – पुष्कर भगत; हर्षभाई साधक, अमेरिका – निरपक भगत; सागरभाई साधक, अमेरिका – नैष्ठिक भगत; मौलिकभाई साधक, अमेरिका – धार्मिक भक्ति; बृजेनभाई साधक, अमेरिका – सुकुमार भगत; ऋषिभाई साधक, नैरोबी अफ्रीका – परितृप्त भगत; उत्तमभाई साधक, जेतपुर – कमल भगत शामिल हैं।

इसके अतिरिक्त पंकजभाई साधक, कड़ी, मेहसाणा – श्रेयश भगत; जतिनभाई साधक, मुंबई – प्रगद भगत; आदित्यभाई साधक, खड़गपुर, बंगाल – पुलकित भगत; मौलिकभाई साधक, रतनपर, सुरेंद्रनगर – उत्पल भगत; निकुलभाई साधक, गजेरा, वडोदरा – शोभित भगत; पार्थभाई साधक, सूरत – विनम भगत; चिरागभाई साधक, वडोदरा, पंचमहल, जर्दाका- विनय भगत; जयेशभाई साधक, जामनगर।

मुंबई – निर्माण भगत; नरेंद्रभाई साधक, कोठारिया – देवांश भगत; अनिरुद्धभाई साधक, जामनगर – हसित भगत; जयभाई साधक, नरसंडा, पुणे – संतोष भगत; अभिषेकभाई साधक, उदयपुर – प्रशांत भगत; हार्दिकभाई साधक, कलावद, जामनगर – सहज भगत; यज्ञेशभाई साधक, देवचड़ी, राजकोट – समदर्शी भगत; हरिकृष्णभाई साधक, भावनगर – उदय भगत; परांजभाई साधक, वलवोद, आनंद – मनन भगत; किशनभाई साधक, गिर सोमनाथ, जूनागढ़ – निगम भगत शामिल हैं।

दीपभाई साधक, जोताला, अमरेली – अविनाश भगत उन युवाओं में से हैं जिन्होंने पार्षद की दीक्षा ली; शुभमभाई साधक, वलसाड – अर्जव भगत; मिलनभाई साधक, मेलाला, गड्डा – ऋत्विक भगत; विकासभाई साधक, दरेगांव, जलगाँव – रुचिर भगत; अमितभाई साधक, मेघपार, राजकोट – मुनीश भगत; नितिनभाई साधक, वडोदरा – धर्मांग भगत; राजभाई साधक, वड़ोदरा, रूपवती, राजकोट – मोरल भगत।

महेशभाई साधक, खोलियाद, सुरेंद्रनगर – परिव्राजक भगत; ऋषिराजभाई साधक, भुज – अभय भगत; रविभाई साधक, कोटडा नयनी, राजकोट – विमल भगत; ध्रुवीतभाई साधक, सूरत – देवेश भगत; विराजभाई साधक, राजकोट – हरिन भगत और केउरभाई साधक, केवड़िया, इसरामा, आनंद – समर्थ भगत शामिल हैं।

परम पावन महंतस्वामी महाराज के मार्गदर्शन में, बीएपीएस संस्था 160 से अधिक गतिविधियों के माध्यम से हर इंसान के सर्वांगीण उत्थान के लिए अभूतपूर्व आध्यात्मिक, सामाजिक और सांस्कृतिक सेवाएं प्रदान कर रही है। नैतिक मूल्यों का संचारण हो, नशामुक्ति हो, पर्यावरण संरक्षण हो या आदिवासी उत्थान, हर जाति-आयु, जाति-जाति, देश-वेश और धर्म-कर्म के व्यक्तियों पर प्रमुखस्वामी महाराज की करुणा बरसती है।

आपको बता दें कि प्रमुखस्वामी महाराज ने 1200 से अधिक मंदिरों का निर्माण कर, 5000 से अधिक सत्संग केंद्रों के माध्यम से, 100 से अधिक स्कूलों और अस्पतालों का निर्माण कर विश्व का कल्याण किया है। प्रमुचस्वामी महाराज द्वारा रचित 1100 से अधिक संतों, 7,050,00 से अधिक पत्र लिखे जाने, 17,000 से अधिक ग्राम यात्राओं और 2,050,00 से अधिक गृह यात्राओं के साथ, उन्होंने लाखों मनुष्यों के जीवन को आशीर्वाद दिया है।

58 करोड़ के आलीशान घर में लग्जरी लाइफ जीते हैं शाहिद कपूर और मीरा अडाणी जैसे 16 अरबोपतिओ को रुला चूका है हिंडनबर्ग रिसर्च