Latest

टेस्ट में तिहरा शतक जड़ने वाले इस पाकिस्तानी खिलाड़ी ने अचानक कर दिया संन्यास का ऐला न

Spread the love

पाकिस्तान की टीम इस समय इंग्लैंड के खिलाफ 3 टेस्ट मैचों की सीरीज खेल रही है। इंग्लैंड ने पहले दो टेस्ट जीतकर श्रृंखला में 2-0 की अजेय बढ़त बना ली है, लेकिन अब पाकिस्तानी प्रशंसकों के लिए कुछ निराशाजनक खबर है। पाकिस्तान के सबसे सफल बल्लेबाजों में से एक अजहर अली ने संन्यास का ऐलान कर दिया है। पाकिस्तान के स्टार बल्लेबाज अजहर अली इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट के बाद क्रिकेट से संन्यास ले लेंगे।

इंग्लैंड के खिलाफ कराची टेस्ट अजहर अली का पाकिस्तान के लिए आखिरी और 97वां टेस्ट मैच होगा क्योंकि उन्होंने 2010 में लॉर्ड्स में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पदार्पण किया था। अब तक उन्होंने 96 मैचों में 42.49 की औसत से 7097 रन बनाए हैं, जिसमें 19 शतक और 35 अर्धशतक शामिल हैं. अजहर अली ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के हवाले से कहा, ‘ऐसे कई लोग हैं, जिनके लिए मैं इस कठिन और खूबसूरत सफर का एहसानमंद हूं।’ मैं अपने परिवार का विशेष उल्लेख करना चाहूंगा, जिनके बलिदान के बिना मैं यहां नहीं होता।

उन्होंने कहा कि मेरे माता-पिता, पत्नी, भाई-बहन और बच्चे हमेशा से मेरी ताकत रहे हैं। अजहर अली महान बल्लेबाज यूनिस खान (10,099), जावेद मियादाद (8,832), इंजमाम-उल-हक (8,829) और मोहम्मद यूसुफ (7,530) के बाद टेस्ट क्रिकेट में किसी पाकिस्तानी द्वारा सबसे ज्यादा रन बनाने वाले पांचवें खिलाड़ी हैं। 2010 में, 25 वर्षीय अजहर अली ने पाकिस्तान के लिए टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया, फिर दूसरे टेस्ट मैच में अपना पहला टेस्ट अर्धशतक बनाया।

अजहर अली गुलाबी गेंद के टेस्ट में तिहरा शतक बनाने वाले एकमात्र पाकिस्तानी बल्लेबाज भी हैं। उन्होंने 2016 में दुबई में वेस्टइंडीज के खिलाफ यह उपलब्धि हासिल की थी, जब उन्होंने नाबाद 302 रन बनाए थे। अजहर अली ने 9 टेस्ट मैचों और 31 एकदिवसीय मैचों में पाकिस्तान टीम की कप्तानी की। इस दौरान उन्होंने टेस्ट में 519 और वनडे में 1153 रन बनाए। अजहर अली ने बतौर कप्तान टेस्ट में 2 और वनडे में 3 शतक लगाए हैं। अजहर अली बाद बाबर आजम ने टीम की कप्तानी संभाली है और अब तक का उनका सफर यही रहा है।

58 करोड़ के आलीशान घर में लग्जरी लाइफ जीते हैं शाहिद कपूर और मीरा अडाणी जैसे 16 अरबोपतिओ को रुला चूका है हिंडनबर्ग रिसर्च