भारतीय क्रिकेट टीम के जाने-माने ”दादा” यानि सौरव गांगुली ने अपने 51वें जन्‍मदिन पर लॉन्‍च किया ऑनलाइन लीडरशिप कोर्स

उत्तर प्रदेश, नोएडा, भारत Trending News टाटा क्लासएज ने किया विशिष्ट डिजिटल क्लासरूम अनुभव क्लासएज प्लैटिनम का अनावरणBy admin June 26, 2023 एका लाइफ लिमिटेड और डॉटम…

उत्तर प्रदेश, नोएडा, भारत

यह कोर्स एडटैक स्‍टार्टअप, क्‍लासप्‍लस, द्वारा पावर्ड ऐप सौरव गांगुली मास्‍टरक्‍लास पर उपलब्‍ध है

गांगुली और क्‍लासप्‍लस इस कोर्स से प्राप्‍त होने वाली पूरी कमाई समाज के वंचित वर्ग के बच्‍चों की शिक्षा के लिए खर्च करेंगे
 

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्‍तान सौरव गांगुली ने अपने 51वें जन्‍मदिन को खास अंदाज़ में मनाते हुए अपनी नई ऐप – सौरव गांगुली मास्‍टरक्‍लास शुरू करने की घोषणा की है। साथ हीइस मौके पर उन्‍होंने अपनी इसी ऐप पर एक सिग्‍नेचर ऑनलाइन कोर्स ”लीडरशिप टू ग्रेटनैस’’ भी लॉन्‍च किया जो अलग-अलग पृष्‍ठभूमियों के लोगों को उनके लीडरशिप स्‍टाइल के बारे में जानकारी देने के साथ-साथ उसे जीवन के विभिन्‍न क्षेत्रों में कैसे लागू किया जा सकता हैयह भी सिखाएगा।

सौरव गांगुली मास्‍टरक्‍लास

दादायानि सौरव गांगुली ने भारत में एजुकेटर्स और कन्‍टेंट क्रिएटर्स को अपने ऑनलाइन कोर्स प्रचारित करने में मददगार अग्रणी प्‍लेटफार्म, क्‍लासप्‍लस की मदद से इस ऐप को लॉन्‍च किया है। उल्‍लेखनीय है कि दादा 2020 से क्‍लासप्‍लस से निवेशक के तौर पर जुड़े हैं। पहली बार किसी भारतीय क्रिकेटर द्वारा लॉन्‍च की गई इस एजुकेशनल ऐप को सभी एंड्रॉयड डिवाइसों पर प्‍ले स्‍टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। इस कोर्स कन्‍टेंट को अंग्रेज़ी और बंग्‍ला भाषाओं में उपलब्‍ध कराया गया है। गांगुली और क्‍लासप्‍लस इस कोर्स से प्राप्‍त होने वाली पूरी कमाई समाज के वंचित वर्ग के बच्‍चों की शिक्षा के लिए खर्च करेंगे।

दादा के इस कोर्स में लीडिंग विद ग्रेटनैस बाय सौरव गांगुली” लीडरशिप के विभिन्‍न पहलुओं जैसे विज़नरी लीडरशिपटीम डायनमिक्‍सउदाहरणों एवं विषमताओं में नेतृत्‍व आदि को शामिल किया गया है।

गांगुलीजिन्‍हें भारतीय क्रिकेट में बदलाव लाने वाली उनकी नेतृत्‍व क्षमता के लिए जाना जाता हैका कहना है कि उनकी सफलता का राज़ एकदम सरल और सहज है। दादा कहते हैं, लीडर और स्‍पोर्ट्समैन के नातेअपने बुनियादी सिद्धांतों के प्रति निष्‍ठाभाव ही मेरी कामयाबी का राज़ है। मैं पिछले कई दशकों के अपने अनुभवोंव्‍यावहारिक बातों और राष्‍ट्रीय स्‍तर पर अत्‍यधिक दबाव में भी काम करने के तौर-तरीकों को साझा करना चाहता हूं। यह कोर्स वास्‍तव मेंमेरे अनुभवों का निचोड़ है जिसे मैं विरासत के तौर पर सौंपना चाहता हूं।

गांगुली ने इस कोर्स में लीडरशिप संबंधी महत्‍वपूर्ण जानकारी के साथ-साथ अपने उल्‍लेखनीय क्रिकेटिंग सफरहालात को बदल देने वाले अहम् फैसलों और भारतीय क्रिकेट संबंधी अपनी विज़न को भी साझा किया है। कोर्स के फाइनल मॉड्यूल – लीडरशिप बियॉन्‍ड बाउंड्रीज़: इम्‍पैक्टिंग द वर्ल्‍ड’’ में अधिकाधिक लीडर्स को तैयार करने के साथ-साथ क्रिकेट की दुनिया से बाहर उनके प्रभावों तथा उनके नेतृत्‍व के परिणामस्‍वरूप सामने आए प्रभावों को भी समेटा गया है।

मुकुल रुस्‍तगीसह-संस्‍थापक एवं मुख्‍य कार्यकारी अधिकारीक्‍लासप्‍लस ने कहा, एक विश्‍वस्‍तरीय क्रिकेट टीम के नेतृत्‍व की कमान संभालने से लेकर दुनियाभर में अपने लाखों प्रशंसकों का साथ रखने वाले दादा सचमुच व्‍यापक स्‍तर पर बदलाव लाने वाली लीडरशिप के प्रतीक बन चुके हैं। हमने क्रिकेट के मैदान पर उनकी नेतृत्‍व क्षमता को देखा है और अब अपनी मास्‍टरक्‍लास के जरिए वे अपनी सफलता के राज़ उजागर करेंगेजिसमें वे हमें बताएंगे कि हम अपने प्रति ईमानदार बने रहकर अपना खुद का लीडरशिप स्‍टाइल किस प्रकार विकसित कर सकते हैं।

गांगुली के सोशल मीडिया पोल में यह सवाल किया गया था कि उन्‍हें अपने फौलोअर्स के साथ अपने क्रिकेट कॅरियर की किस सीख (लर्निंग) को साझा करना चाहिएऔर इसके जवाब में सबसे ज्‍यादा लीडरशिप के विषय पर वोट मिले। इसके चार दिन बाद हीसौरव गांगुली ने अपनी ऐप पर फौलोअर्स के लिए यह कोर्स लॉन्‍च करने की घोषणा की है।