25 स्कूलों में एक साथ की नौकरी, 1 साल मे 1 करोड़ से ज्यादा ली सैलरी

25 स्कूलों में एक साथ की नौकरी, 1 साल मे 1 करोड़ से ज्यादा ली सैलरी

यह बात उत्तर प्रदेश, टीचर और फर्जीवाड़ा वाली नहीं है यह एक नया मामला है. राज्य में शिक्षा विभाग के तहत कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय (KGBV) चलते हैं. एक टीचर जिसका नाम अनामिका शुक्लाशुक्ल है, उस पर आरोप है कि उन्होंने राज्य के 25 कस्तूरबा गांधी स्कूलों में ‘नौकरी’ की और पिछले 13 महीने में करीब 1 करोड़ की सैलरी भी उठाई| बताया गया है कि वो साइंस की टीचर हैं और मैनपुरी की रहने वाली हैं.

शिक्षा विभाग की तरफ से डिजिटल डेटा तैयार करने के दौरान ये जानकारी सामने आई, इसमें पता चला कि एक ही नाम और फोटो के साथ ये टीचर अलग-अलग ज़िलों के 25 स्कूलों में रजिस्टर्ड है. इन ज़िलों में प्रयागराज, अंबेडकरनगर, बागपत, सहारनपुर जैसे कई नाम हैं, इस मामले की जांच शुरू हो गई है. ये टीचर इस साल फरवरी तक करीब 1 करोड़ की सैलरी ले चुकी है. फिलहाल उसकी सैलरी रोक दी गई है और पता लगाया जा रहा है कि क्या उसने सैलरी के लिए एक ही बैंक अकाउंट इस्तेमाल किया.

स्कूली शिक्षा महानिदेशक, विजय किरन आनंद ने बताया,जब सभी टीचर्स को प्रेरणा पोर्टल पर ऑनलाइन अपनी अटेंडेंस दर्ज करानी है तो एक टीचर कैसे कई जगहों पर उपस्थित हो सकती है. हमने अधिकारियों को जांच के आदेश दिए हैं.  अगर शिकायतें सही पाई गईं, तो FIR दर्ज कराई जाएगी.

अनामिका शुक्ला को फरवरी तक रायबरेली के कस्तूरबा गांधी स्कूल में कार्यरत पाया गया है. इसके बाद मामला सामने आया.

उत्तर प्रदेश के बेसिक शिक्षा मंत्री डॉक्टर सतीश द्विवेदी ने कहा,विभाग ने जांच के आदेश दिए हैं और आरोप सही पाए गए तो टीचर के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी. हमारी सरकार जब से आई है, डिजिटल डेटाबेस पारदर्शिता के लिए तैयार किया जा रहा है. अगर किसी अधिकारी को शामिल पाया गया तो कार्रवाई होगी.उन्होंने कहा कि कस्तूरबा गांधी स्कूल में कॉन्ट्रैक्ट बेसिस पर भी नौकरी दी जाती है. विभाग इस टीचर के बारे में तथ्यों की जांच कर रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *