देशकी बड़ी कंपनी ने शुरू किया आयुर्वेदिक दवा का कोरोना के इलाज के लिए परीक्षण

देशकी बड़ी कंपनी ने शुरू किया आयुर्वेदिक दवा का कोरोना के इलाज के लिए परीक्षण

कोरोना महामारी के चलते पूरी दुनिया इसके लिए दवा या वैक्सीन बनाने में जुटी हुई है, कई जगहों पर ट्रायल शुरू हो चुके है। तभी 1 खबर आ रही है कि देश की टोच की दवा निर्माता कंपनी सन फार्मास्युटिकल्सने कोरोना के इलाज के लिए पोधो से बनी दवाई पर परीक्षण कर दिया है ।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक दवा निर्माता कंपनी सन फार्मास्युटिकल्स इंडस्ट्रीज ने कोरोना मरीजों के इलाज के लिए पौधे से बनने वाली दवा के परीक्षण का पहला पड़ाव पार कर लिया है । पौधे से पैदा दवा AQCH के असर का पता लगाने के लिए दूसरे चरण के परीक्षण के नतीजे अक्टूबर तक सामने आ सकते हैं। यह दवाई चार प्रकार के डेंगू वायरस के खिलाफ एक कुदरती औधषि है। कंपनी के मुताबिक कोरोना वायरस और डेंगू वायरस इंसानी शरीर के अंदर एक जैसा व्यवहार करते हैं।

सन फार्मा ने बताया, हमें औषधि महानियंत्रक ने औषधि से बनी दवा के परीक्षण की अनुमति दी थी। क्लीनिकल परीक्षण देश के 12 केंद्रों पर 210 मरीजों पर किया जाएगा। इसमें इलाज अवधि 10 दिन होगी। कंपनी ने कहा, AQCH का मानव पर सुरक्षा अध्ययन पूरा हो चुका है। यह औषधि दूसरे चरण के परीक्षण के लिए सुरक्षित मिली है। 

कंपनी के अनुसार AQCH डेंगू के इलाज के लिए बनाई जा रही है। इसलिए कोरोना संक्रमण के इलाज के विकल्प के रूप में इसका परीक्षण किया जा रहा है। कंपनी चार साल से बायोटेक्नोलॉजी विभाग के इंटरनेशनल सेंटर फॉर जेनेटिक इंजीनियरिंग एंड बायोटेक्नोलॉजी (डीबीटी-आईसीजीईबी) और वैज्ञानिक के साथ औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) के सहयोग से डेंगू के इलाज के लिए फाइटोकैमिकल पर आधारित दवा विकसित कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *