ऐसी छोटी-छोटी गलतियां दूर कर देंगी आपकी आंखों की रोशनी, अगर आप भी करते हैं ये गलती तो आज ही हो जाएं सावधान

Spread the love

आंखों को भगवान का सबसे खूबसूरत तोहफा माना जाता है। आंखों के बिना दुनिया की खूबसूरत चीजों का आनंद नहीं लिया जा सकता। यही कारण है कि स्वास्थ्य विशेषज्ञ सभी लोगों को आंखों की सुरक्षा के लिए निरंतर उपाय करने की सलाह देते हैं। आमतौर पर हम कई ऐसी गलतियां कर बैठते हैं, जिससे आंखों को गंभीर नुकसान होने का खतरा बढ़ जाता है। गंभीर मामलों में, दृष्टि खो सकती है।

नेत्र रोग विशेषज्ञों का कहना है कि हाल के वर्षों में हमारी जीवनशैली इतनी अराजक हो गई है कि यह आंखों के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव डाल रही है। कम उम्र में लोगों को आंखों की कई गंभीर समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। आंखों के स्वास्थ्य को बनाए रखने में आहार की भी विशेष भूमिका होती है, पौष्टिक भोजन की कमी से आंखों की रोशनी पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। आइए जानते हैं ऐसी ही कुछ आदतों के बारे में जो हमारी आंखों को गंभीर नुकसान पहुंचा सकती हैं। इसे तत्काल ठीक करने की जरूरत है।

बढ़ा हुआ स्क्रीन समय:

अधिकांश लोगों के लिए स्क्रीन टाइम दैनिक जीवन का एक नियमित हिस्सा बन गया है, हालांकि स्क्रीन पर बहुत अधिक समय बिताना आपकी आंखों के लिए हानिकारक हो सकता है। स्क्रीन चाहे जो भी हो – मोबाइल, टीवी, लैपटॉप, किसी भी तरह की स्क्रीन पर ज्यादा समय बिताना आंखों को असहज कर सकता है। इससे आंखों में सूखापन, लालिमा और खुजली होती है। कम रोशनी में स्क्रीन देखने से आंखों पर ज्यादा दबाव पड़ता है।

आहार में पोषक तत्वों की कमी:

જાણો તમારા શરીરમાં કયા વિટામીનની ઉણપ છે? આવા લક્ષણો દેખાય છે? તો.... - GSTV

आंखों को स्वस्थ रखने के लिए कई पोषक तत्वों की जरूरत होती है। आंखों को स्वस्थ रखने के लिए विटामिन ए, जिंक, ओमेगा-3 फैटी एसिड और विटामिन सी जैसे पोषक तत्व जरूरी हैं। गाजर आपकी आंखों के लिए एक अच्छा भोजन माना जाता है। पीले और नारंगी रंग के फल और सब्जियां, गहरे रंग के पत्तेदार साग, अंडे, मेवा और शिया खाद्य पदार्थ आंखों की रोशनी में सुधार और उन्हें स्वस्थ रखने के लिए फायदेमंद खाद्य पदार्थों के रूप में जाने जाते हैं।

नींद की कमी:

Health Tips/ જાણો લો કેટલી ઘાતક સાબિત થઇ શકે છે ઊંઘ પુરી ન કરવાની આદત - GSTV

अगर आप हर रात 7-9 घंटे की नींद नहीं भी ले पाते हैं तो भी ऐसी आदत आपके मानसिक स्वास्थ्य के साथ-साथ आपकी आंखों के लिए भी हानिकारक हो सकती है। डॉक्टरों का कहना है कि पर्याप्त आराम की कमी से आपकी आंखें लाल हो सकती हैं। इसके अलावा यह आदत आंखों में सूखापन और धुंधली दृष्टि का कारण बन सकती है। आंखों के अच्छे स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए रात की अच्छी नींद लेना बहुत जरूरी माना जाता है।