24 से 28 फरवरी तक शनि आपके जीवन में करेगा उथल-पाथल, इन 4 राशियों के लोगों के लिए दिन रहेगा बहुत ही अच्छा

Spread the love

न्याय के देवता शनि का 22 जनवरी को अपनी ही राशि मकर राशि में निधन हो गया और अब 24 फरवरी, 2022 को उदय होगा। 33 दिनों के इस दौरान सभी 12 राशियों का जीवन उथल-पुथल भरा रहेगा। हालांकि मेष, मिथुन, कर्क समेत 8 राशियों के लोगों को इस दौरान विशेष सावधानी बरतने की सलाह दी जाती है। इस राशि के जातकों की आर्थिक स्थिति भी अधिक प्रभावित हो सकती है। आइए जानते हैं बरय राशि के जातकों पर शनि का क्या प्रभाव पड़ेगा.

इस राशि के लोगों को सावधान रहना चाहिए:
मेष: मेष राशि के जातक मानसिक तनाव में रहेंगे। आपके प्रयासों में कई बाधाएं दूर हो सकती हैं। करियर के मामले में आप अपने काम में रुचि नहीं लेंगे और कार्यक्षेत्र में काम का बोझ सामान्य से अधिक हो सकता है।

मिथुन: मिथुन राशि के लोगों को किसी भी कार्य को पूरा करने में कई बाधाओं का सामना करना पड़ सकता है। कार्य क्षेत्र में इस समय आपको अपने कार्यों में कठिनाइयों और चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा, साथ ही आप अपने काम में अधिक दबाव भी देखेंगे और इस वजह से आप अपने कार्यों को समय पर पूरा नहीं कर पाएंगे।

कर्क: कर्क राशि के जातकों को अपने रिश्तों में परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। नौकरी चाहने वाले अपनी नौकरी की वृद्धि और विकास से संतुष्ट नहीं होंगे। कार्यक्षेत्र में काम का बोझ अधिक रहेगा और आपके वरिष्ठों और सहकर्मियों के साथ संबंधों में समस्याएँ आएंगी।

तुला: तुला राशि के लोगों के लिए चतुर्थ भाव में शनि का गोचर सुख-सुविधाओं में कमी, पारिवारिक संबंधों में तनाव आदि का संकेत है। नौकरी चाहने वालों को अपने काम में संतुष्टि नहीं मिल पाएगी, क्योंकि कार्यक्षेत्र में अत्यधिक तनाव आपको परेशान कर सकता है।

वृश्चिक: वृश्चिक राशि के जातकों के लिए शनि की गोचर आपको जीवन में उन्नति और विकास में देरी का योगी बना देगी और इससे आपके करियर में प्रगति की गति धीमी हो जाएगी। कार्यस्थल पर अपना काम करने में आपकी रुचि नहीं होगी, क्योंकि इस समय आपकी नौकरी में अवांछित स्थानांतरण या किसी छोटे पद का प्रोफाइल बदलना संभव है।

धन: धन राशि के जातकों के लिए शनि का गोचर व्यक्तिगत जीवन में संचार संबंधी परेशानियां देने वाला योग बनेगा। कार्यस्थल पर इस समय आप जो भी काम और प्रयास कर रहे हैं, उसके लिए आपको वह सम्मान नहीं मिल सकता है जो आप चाहते हैं। यह कई लोगों को अपने काम में संतुष्टि पाने में मदद करने के लिए अपनी वर्तमान नौकरी बदलने पर विचार करने की अनुमति देगा।

कुम्भ: कुम्भ राशि के लिए शनि प्रथम और बारहवें भाव का स्वामी है और अब यह बारहवें भाव में स्थित है, जिसके परिणामस्वरूप आपको अपने करियर, आर्थिक जीवन आदि में उन्नति से जुड़ी बाधाओं का सामना करना पड़ सकता है। कार्यक्षेत्र में स्थितियां आपके लिए आसान नहीं रहेंगी।

मीन राशि: मीन राशि के जातकों के लिए इस समय जीवन में धन लाभ और खर्च दोनों में वृद्धि संभव है। कार्यक्षेत्र में आप खुद को मुश्किल स्थिति में पा सकते हैं, क्योंकि इस समय आपको कोई संतोषजनक अवसर नहीं मिल सकता है। इस वजह से कई जातक नौकरी में विभिन्न अवसरों से खुद को वंचित कर लेंगे।

इन 4 राशियों के लोगों के लिए ऐ दिन बहुत ही अच्छा रहेगा।
वृषभ: वृषभ राशि वालों के लिए वर्क फ्रॉम वर्क के लिए विदेश जाना योग बनेगा। यह मूल निवासियों के लिए अपनी तरह का पहला होगा। आपके करियर में शनिदेव आपको पदोन्नति और अन्य लाभों से जुड़े अच्छे परिणाम देने का काम करेंगे।

सिंह: सिंह राशि के लोग इस समय अपने काम पर विशेष रूप से ध्यान देने के लिए उत्सुक रहेंगे। आप अपने विरोधियों पर कुशलता से विजय पाने की स्थिति में भी रहेंगे। करियर के संदर्भ में, नौकरी चाहने वालों को अपने कार्यक्षेत्र में अच्छा प्रदर्शन करने और अपनी कड़ी मेहनत के लिए अपने वरिष्ठों से उचित प्रोत्साहन मिलेगा। इससे कई लोगों के लिए इस समय नई नौकरी पाने के अवसर पैदा होंगे और उन्हें उच्च संतुष्टि मिलेगी।

कन्या: कन्या राशि वालों के लिए शनि की यह स्थिति आध्यात्मिक मामलों में आपकी रुचि बढ़ाएगी और आप किसी धार्मिक यात्रा पर जाने की योजना बना सकते हैं। कार्यक्षेत्र में आपको इन सभी चुनौतीपूर्ण कार्यों को इस समय पूरा करना होगा। योग भी कई लोगों के लिए इस समय नौकरी पाने का एक नया अवसर होगा और उनकी मनोकामनाएं पूरी करना भी संभव होगा।

मकर: मकर राशि के जातकों के लिए शनि का गोचर आपको अपने काम पर अधिक ध्यान केंद्रित करने में मदद करेगा और यह आपको अपने लक्ष्य पर केंद्रित रखेगा। हालाँकि कार्यक्षेत्र में आपके सामने कई चुनौतियाँ होंगी, जिससे कार्यक्षेत्र में आपकी व्यस्तता देखी जा सकती है। आपके काम को वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा उचित सम्मान और पदोन्नति मिल सकती है।